Breaking News

ट्रंप ने दी चेतावनी, अगर खतरा बना उत्तर कोरिया तो बर्बाद कर देंगे

संयुक्त राष्ट्र। अमेरिका का राष्ट्रपति बनने के बाद मंगलवार को संयुक्त राष्ट्र में अपने पहले संबोधन में डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि अमेरिका कट्टर इस्लामी आतंकवाद को खत्म करके रहेगा। उन्होंने कहा कि आतंकियों को वह अपने देश या दुनिया के टुकड़े करने नहीं दे सकते।

संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित करते हुए ट्रंप ने दुनिया के नेताओं से कहा, आतंकी और चरमपंथी दुनिया के हर कोने में मजबूत हुए हैं और फैल रहे हैं। वक्त आ गया है जब आतंकी संगठनों को वित्तीय मदद और सुरक्षित पनाह मुहैया कराने वाले देशों को बेनकाब किया जाए और उन्हें जिम्मेदार ठहराया जाए। उन्होंने कहा कि सभी जिम्मेदार देशों को साथ मिलकर आतंकियों और उन्हें प्रेरित करने वाले इस्लामी चरमपंथियों का मुकाबला करना चाहिए। यहां यह उल्लेखनीय है कि पिछले महीने ही ट्रंप ने पाकिस्तान को आतंकियों को सुरक्षित पनाह मुहैया कराने के लिए कड़ी चेतावनी दी थी।

उत्तर कोरिया पर बोलते हुए ट्रंप ने कहा कि किम जोंग उन (उत्तर कोरिया का तानाशाह) की परमाणु शक्ति संपन्न सत्ता अगर अपने पड़ोसियों के लिए खतरा बनी तो उत्तर कोरिया को तबाह करना पड़ सकता है। उन्होंने कहा, 'अमेरिका के पास काफी ताकत और धैर्य है, लेकिन अगर उसे खुद का या अपने सहयोगियों का बचाव करना पड़ा तो हमारे पास उत्तर कोरिया को तबाह करने के अलावा कोई विकल्प नहीं बचेगा।' 

अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि 'रॉकेट मैन' (किम जोंग उन) अपने और अपनी सत्ता के लिए आत्मघाती अभियान पर है। उन्होंने कहा, 'अमेरिका तैयार है, चाहता है और सक्षम है, लेकिन उम्मीद है कि इसकी जरूरत नहीं पड़ेगी।' ट्रंप ने आगे कहा, किसी भी शासन ने अपने लोगों का उतना अपमान नहीं किया, जितना उत्तर कोरिया ने किया है। परमाणु हथियारों को लेकर उत्तर कोरिया के बेपरवाह रवैये ने पूरी दुनिया को धमकाने का काम किया है। 

No comments